अनिरुद्धाचार्य जी महाराज का जीवन परिचय [Wife, Marriage, Age] | Aniruddhacharya Ji Maharaj Biography Hindi

Aniruddhacharya Ji Maharaj Biography Hindi Bhagwat Katha Bhajan Wife Family Fees, shri anirudh caste age Wikipedia, अनिरुद्धाचार्य जी महाराज का जीवन परिचय कहां के रहने वाले हैं मोबाइल नंबर वाइफ नाम, अनिरुद्ध आचार्य भागवत कथा फीस कितने बच्चे हैं anurudra chary शादी कब हुई थी पत्नी कौन है age wikipedia death विकिपीडिया उम्र कितनी jivan parichay परिवार आश्रम कहां संपत्ति         

आज के समय में स्वामी अनिरुद्ध महाराज जी हर घर की शान बन गए हैं क्योंकि इसकी कथा लगभग हर घर हर व्यवसाय क्षेत्र में टीवी या मोबाइल के माध्यम से चलता ही रहता है यह देखने को मिलता ही है ।

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज का जन्म 27 सितंबर 1989 में मध्यप्रदेश के दमोह जिले मे रिंवझा नामक गाँव में हुआ है ।

Aniruddhacharya ji Maharaj एक जाने-माने धार्मिक प्रवचनकर्ता है अगर आप भक्ति से जुड़े हुए कार्यक्रम देखना पसंद करते हैं तो आपने इन्हें यूट्यूब चैनल या टीवी पर जरूर देखा होगा।

स्वामी अनिरुद्धाचार्य जी महाराज द्वारा दिए गए प्रवचन को सुनने के लिए लोगों की भीड़ हजारों की संख्या में आती है और लोग इन्हें बहुत ज्यादा पसंद भी करते हैं।

Aniruddh maharaj द्वारा दिए गए प्रवचन से कईयों के जीवन में अमूल्य परिवर्तन होता है इनके प्रवचन हमारे लिए प्रेरणा के स्रोत है और ऐसे महान व्यक्तित्व के जीवन के बारे में जानना हम सबके लिए अति आवश्यक है तो आइए हम लोग जानते हैं इनके जीवन के विषय में-

स्वामी अनिरुद्ध महाराज जी

स्वामी अनिरुद्धाचार्य जी महाराज, Biodata, Jeevan Parichay (Aniruddh Maharaj Biography Hindi)

पूरा नाम (Real Name)श्री अनिरुद्धाचार्य
उपनाम (Nick Name)अनिरुद्ध
पेशा (Profession)कथा वाचन
पिता का नाम (Father Name)श्री अवधेशानंद गिरी जो (भागवताचार्य)
आयु (Age)32 वर्ष (2022)
जन्म स्थान (Birthplace)दमोह (रिंवझा ग्राम)
जन्म (Date Of Birth )27 सितंबर 1989
धर्म (Religion)हिन्दू
गुरु श्री गिर्राज शास्त्री जी महाराज
Foundationगौरी गोपाल वृद्धा आश्रम
स्कूल (School)                ज्ञात नहीं
कॉलेज (College/University)ज्ञात नहीं
Caste (Cast)ज्ञात नहीं
पत्नी वाइफ नाम (Marital Status/Wife)married
बच्चे (Son Name)ज्ञात नहीं
शिक्षा (Education/Qualification)ज्ञात नहीं
निवास (Hometown)वृन्दावन
उचाई (Height)5.9 इंच 173 CM
वजन (Weight)68 Kg
Net Worth4 से 5 करोड़
Youtube ChannelClick Here
Instagram Click Here
FacebookClick Here
TwitterClick Here

जन्म और आयु (Birthday And Age)

महाराज अनिरुद्धाचार्य का जन्म 27 सितंबर 1989 में मध्यप्रदेश के दमोह जिले मे रिंवझा नामक गाँव में हुआ है बचपन से ही इनका मन आध्यात्मिक क्षेत्रों में ज्यादा रहता था ।

इसी कारण से इन्होंने अनेकों प्रकार के धार्मिक पुस्तक जैसे भगवत गीता, रामायण, महाभारत जैसे ग्रंथों का अध्ययन किया।

सबसे बड़ी बात है कि हनुमान चालीसा उन्हें कंठस्थ याद है anurudra aacharya ji स्कूली शिक्षा प्राप्त करने के बाद Vrindavan चले गए जहां इन्होंने अपने गुरु संत गिर्राज शास्त्री महाराज से दीक्षा प्राप्त की तथा सनातन धर्म का प्रचार करने लगे। ।

अनिरुद्ध महाराज जी को बचपन से ही गाय की सेवा करना बहुत ज्यादा पसंद है इसीलिए गाय को माता की उप्मा देते है ।

अनिरुद्धाचार्य महाराज का परिवार (Anurudd aacharya Family, Son)

Aniruddh maharaj के परिवार में कुल मिलाकर 6 लोग हैं उनकी पत्नी, दो बच्चे और उनके माता-पिता जिसमे इनके पिताजी का नाम श्री अवधेशानंद गिरी जो भागवताचार्य रहे है।

इसी के साथ इनकी पत्नी भी एक गुरु माता है और वह भी प्रवचन देने का कार्य करती है। इनके बच्चे महाराज जी के माता पिता के साथ रहते हैं।

अनिरुद्ध महाराज की पढ़ाई (Anurodh Maharaj Education Qualifications)

anurudra chary महाराज जी के स्कूली शिक्षा दीक्षा बहुत ही कम है बचपन मे इनकी आर्थिक स्थिति सही नहीं होने के कारण इनकी स्कूली शिक्षा दीक्षा नहीं हो पाई।

अनिरुद्ध महाराज बचपन से ही vrindavan आकर संस्कृत में अध्ययन किया इसके अलावा जितने भी हिंदू धर्म ग्रंथ है उनका भी इन्होंने अध्ययन किया।

स्वामी अनिरुद्ध आचार्य जी महाराज अपनी शिक्षा गुरु संत गिराज महाराज जी के शरण मे ली है।

वैवाहिक जानकारी शादी (Marriage, Wife)

अनिरुद्ध आचार्य जी महाराज की शादी कब हुई इसकी बात करें तो इनहोने शास्त्रो की नीति के हिसाब से विवाह भी कर लिए है। जिसमे इनकी पत्नी भी एक प्रवचन और गायन का कार्य करती है।

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज करियर (Aniruddh Maharaj Career Details)

जैसा कि मैंने आपको ऊपर बताया कि Shri Aniruddhacharya ji की स्कूली शिक्षा दीक्षा बहुत ही कम हुई है और बचपन से ही Aniruddh maharaj का मन अध्यात्म की ओर ज्यादा था।

इसलिए वह वृंदावन आ गए और अपने गुरु के शरण में इन्होंने अनेकों प्रकार के हिंदू धार्मिक ग्रंथों का अध्ययन किया और अपने करियर की शुरुआत एक कथा वाचक और भक्ति गायन के तौर पर शुरू किया।

और आज के समय मे Youtube और बहुत सारे टीवी चैनलो के माध्यम से लोगो के समक्ष Bhagwat katha का प्रवचन करते है। और जहां इनका कथा वाचन होता है वहाँ लोगो की काफी ज्यादा भीड़ उमड़ती है।

जिसके कारण लोगो को कथा वाचन के 5, 6 घंटे पहले Bhagwat katha स्थल पर पहुचना पड़ता है तभी कथा का आनंद ले पते है।

अनिरुद्ध महाराज का सामाजिक कार्य (Social Work)

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज हमेशा लोगों को धर्म के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देते हैं ताकि लोग दिशा भ्रमित ना हो सके ।

इसके अलावा इनके बारे में कहा जाता है कि इनका खुद का एक आश्रम भी है जहां पर यह गरीब कन्याओं की शादी करवाने का कार्यक्रम भी आयोजित करते हैं ताकि जिनके पास पैसे नहीं है वह अपनी कन्या का विवाह आसानी से कर पाए।

अनिरुद्ध आचार्य जी महाराज जी का धार्मिक कार्य (Bhagwat Katha, Bhajan)

इस दुनिया में सभी धर्म में रहने वाले लोगों को अपने धर्म के सिद्धांत और उनके विचारधरा के बारे में जानकारी होना आवश्यक है तभी तो आप अपने धर्म के प्रति समर्पित रह पाएंगे।

ऐसे में अनिरुद्ध महाराज हिंदू धर्म में निवास करने वाले लोगों को हमेशा धर्म के मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करते हैं और हिंदू धर्म का जो भी पुरातन इतिहास और धार्मिक मान्यता उनके बारे में लोगों को जानकारी देते हैं।

हिंदू धर्म के लोग अपने धर्म से जुड़े हुए अच्छी बातों को अपने जीवन में सम्मिलित कर सकें Pandit Aniruddh maharaj ji अपने कथा के माध्यम से लोगों को ईश्वर के प्रति समर्पित होने की भी प्रेरणा देते हैं इसलिए उनका धार्मिक कार्य करने का क्षेत्र काफी व्यापक और उद्देश्य पूर्ण है।

पुरस्कार (Aniruddh Maharaj Award)

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज के पुरस्कार के बारे मे बातें करे तो अभी तक महाराज जी को केंद्र या राज्य सरकार की तरफ से कोई भी अवार्ड नहीं दिया गया है ।

लेकिन जिस प्रकार ये सामाजिक और धार्मिक कार्य कर रहे हैं ऐसे में हम उम्मीद कर सकते हैं कि आने वाले समय में इनको अवार्ड सरकार की तरफ से जरूर दिया जाएगा।

अनिरुद्धाचार्य जी के संपत्ति (Net Worth)

स्वामी जी का आज बहुत बड़ा नाम हो गया है उसी के साथ बहुत से स्थलो मे लगातार इनकी कथा की बूकिंग वर्षो पहले हो जाती है। अगर देखने जाए अनिरुद्धाचार्य जी महाराज की सालाना नेट वर्थ तो 4 से 5 करोड़ रूपये या इससे अधिक भी हो सकता है क्योंकि इसकी कोई आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की जा सकती है।

अनिरुद्धाचार्य जी महाराज फीस (Aniruddhacharya Ji Maharaj Fees)

स्वामी अनिरुद्ध आचार्य आज के समय में जाने माने और पॉपुलर भागवताचार्य में से एक है जिसकी 1 दिन की फीस लाखों में होती है और भागवत कथा की बात करें तो 7 दिनों तक इसकी कथा चलती है अगर इसकी भागवत कथा कराना होता है तो 2,3 महीने पहले बुक कराना पड़ता है और इसकी Fees के बारे में एकदम सही जानकारी चाहिए तो आप इससे कांटेक्ट कर सकते हैं आपको नंबर मिल जाएगा ।

मोबाइल कांटेक्ट नंबर (Social Media And Contact Number)

स्वामी जी anurudra chary की टीम हर जगह एक्टिव रहती है तो इसको कांटेक्ट करने के लिए आप इसके सोशल मीडिया में भी जा सकते हैं या फिर आप इनको मोबाइल नंबर और ईमेल कर सकते हैं जिसके द्वारा आप इससे संपर्क कर सकते हैं।

FacebookClick Here
InstagramClick Here
TwitterClick Here
YouTubeClick Here
Email[email protected]
Websiteshrigougourigopalsevasanstha.com
Mobile Number6399991599, 6399991699, 6399991799

रोचक तथ्य (Interesting Facts)

श्री अनिरुद्धाचार्य महाराज ने अपना YouTube Channel अपने जन्मदिन के 2 दिन पश्यात Sep 29, 2017 को शुरू किया था।

आचार्य जी 600 से भी ज्यादा कथाएं देश विदेश में कर चुके है।

इन्होंने गौरी गोपाल वृद्धा आश्रम बूढी माताओ के लिए शुरू किया है।

अनिरुद्ध महाराज जी की ज्यादातर कमाई वृद्ध माताओ की सेवा में चली जाती है।

स्वामी जी के पिताजी एक मंदिर में पुजारी थे।

बचपन में swami जी की छोटी बेहेन का देहांत हो गया था।

स्वामी अनिरुद्ध आचार्य जी महाराज की सबसे बड़ी रोचक बात यह है कि इन्होंने बचपन से ही धार्मिक क्षेत्र में काफी ध्यान दिया और बचपन से ही भगवत गीता, रामायण आदि चीजों का ज्ञान प्राप्त कर लिया और आगे चलकर लोगों को जानकारी दे रहे हैं।

Shri Aniruddh maharaj और रोचक बात करें तो इनका परिवार पूरी तरह से धार्मिक क्षेत्रों में ही देखने को मिलता है जिसमें इसके पिता जी श्री अवधेशानंद गिरी भागवताचार्य है इसी के साथ इसकी पत्नी भी धार्मिक क्षेत्र में प्रवचन करती है।

स्वामी अनिरुद्धाचार्य की सबसे बड़ी रोचक बात यह है कि आज के समय में वृद्ध और बूढ़े लोग इनके दीवाने है उसी के साथ आज के नौजवान भी इनके प्रवचन भागवत कथा को काफी ज्यादा सुनने में रोचकता दिखाते हैं।

स्वामी अनिरुद्ध आचार्य कि और रोचक बातें करें तो अभी के समय में सबसे जल्दी ख्याति प्राप्त करने वाले धार्मिक क्षेत्र में इनका नाम आता है।

Aniruddhacharya ji की सबसे बड़ी रोचक बात यह है कि आज के समय में लगभग आपको हर जगह हर घर में कोई न कोई जगह आपको इसकी भजन टीवी में, मोबाइल में या फिर और माध्यम से आपको देखने को मिल ही जाएगा।

नौजवानों में रोचकता का सबसे बड़ा कारण है की अनिरुद्ध आचार्य Bhagwat katha के साथ-साथ मोटिवेशन भी काफी ज्यादा अपनी कथा में शामिल करते हैं जिसके कारण आज हर लोग इसके दीवाने होते जा रहे हैं।

इनकी और सबसे बड़ी रोचक बात यह है कि स्वामी जी अपनी कमाई का ज्यादातर हिस्सा गौरी गोपाल वृद्धा आश्रम मे बूढ़ी माताओं के लिए दान करते हैं इस संस्था को इन्होंने 2016 मे शुरू किया था।

swami जी की और सबसे बड़ी रोचक बात करें तो यह गाय बैल के काफी ज्यादा प्रेमी है बचपन में जब छोटे थे तो स्वामी जी गाय को चराने के लिए चले जाते थे जिससे इनका लगाओ और बढ़ता गया और यह लगाओ आज भी देखा जाता है ।

Conclusions

उम्मीद करता हूं कि आपको anuruddacharya biography hindi जरूर पसंद आयी होगी और उनके जीवन से जुड़े हुए सभी प्रकार के रोचक बातें और jeevan parichay इसके बाद भी अगर आपके मन में कोई सवाल है तो मेरे कमेंट बॉक्स में आकर पूछे मैं आपके सवालों का जवाब अवश्य दूंगा तब तक के लिए धन्यवाद।

FAQ

Q. अनुरोध आचार्य के कितने बच्चे हैं?

Ans. श्री अनिरुद्धाचार्य के 2 बच्चे है।

Q. अनिरुद्ध महाराज की उम्र कितनी है?

Ans. अनिरुद्ध महाराज की आयु 2022 के हिसाब से 32 वर्ष है ।

Q. अनिरुद्ध आचार्य जी महाराज का जन्म कब हुआ?

Ans. अनिरुद्ध आचार्य का जन्म 27 सितंबर 1989 को हुआ।

Q. अनिरुद्ध आचार्य जी के पिताजी का नाम क्या है?

Ans. श्री अवधेशानंद गिरी जो भागवताचार्य रहे है।

Q. अनिरुद्ध आचार्य जी कहां के रहने वाले हैं?

Ans. अनिरुद्ध आचार्य मध्यप्रदेश के दमोह जिले के रिंवझा ग्राम के रहने वाले है जो अभी वृन्दावन मे निवास करते है।

Book Buy On Amazon:

Other Post:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here